ईमेल क्या है | ईमेल का फुल फॉर्म क्या होता है

all post ads
ईमेल क्या है - किसी चिट्ठी को इलेक्ट्रॉनिक माध्यिम से भेजना ईमेल करना कहलाता है आज से कुछ साल पहले जब इन्टरनेट का उपयोगकर्ता नहीं था उस समय लोग पोस्ट ऑफिस के माध्यिम से अपना चिट्ठी भेज या प्राप्त करता था लेकिन आज उसी काम को लोग ऑनलाइन करता है जिसे हम ईमेल करना कहते है. जब  हम किसी को ईमेल भेजते  हैं तो यह  कुछ ही  सेकंड में हमारे प्राप्तकर्ता तक  पहुंच जाता है लेकिन अगर आप इसी काम को पोस्ट ऑफिस के माध्यिम से करें तो आपका प्राप्तकर्ता तक पहुंचने में महिनो लग जाता था लेकिन अब तो कुछ सुधार हुआ है और अब 7 दिन से अधिक और 15 दिन से कम  समय लगता है, अब आप समझ गए होंगे ईमेल भेजना किसी  चिट्ठी का इलेक्ट्रॉनिक माध्यिम से भेजने जैसा है आपने अपने दैनिक जीवन में ईमेल का उपयोग किया होगा
ईमेल क्या है ईमेल का  फुल फॉर्म क्या होता है

ईमेल का फूल फॉर्म क्या होता है Full Form Of Email

क्या आपको पता है ईमेल का फूल फॉर्म क्या होता है नहीं ना चलिए अब हम आपको बताते है ईमेल को दो शब्द से मिलाकर बनाया गया है (E+Mail = Email) E= Electronic, Mail= Mail (Electronic Mail) जिसे हम इलेक्ट्रॉनिक मेल भी कहते है.

ईमेल Address क्या होता है What is Email Address in Hindi ?

जब आप किसी को पोस्ट ऑफिस के माध्यिम से चिट्ठी भेजने जाते हो, तो उस वक्त  आपको उस व्यक्ति का घर का  पता Address मालूम होना  चाहिए जिससे आप खत या चिट्ठी भेजना चाहते हो, ठीक वैसे ही घर के address की तरह ही हर किसी का एक अच्छा ईमेल address होता है अगर आप किसी को ईमेल करना चाहते हो तो आपके पास और उस व्यक्ति के पास भी ईमेल Address जिसे ईमेल id भी कहते है होना अनिवार्य है,  ईमेल Address आप एक ईमेल खाता बनाकर प्राप्त कर सकते हो
इस ईमेल Address से ईमेल भेज और प्राप्त करने का  काम कर  सकते हो, ईमेल का उपयोग लोग सिर्फ नॉर्मल मेल भेजने के लिए ही नही बल्कि अपने बिजनेस कार्य को आसान बनाने के लिए भी करते है

मुफ्त  ईमेल सर्विस देने वाली वेबसाइट Free Email Service Provides

अब हम बात करते है मुफ्त मे ईमेल सर्विस देने वाली वेबसाइट के बारे मे, जिसकी मदद से आप अपना खुद का ईमेल खाता बनाकर ईमेल भेज तथा ईमेल प्राप्त सकोगे अगर Free Email Service Providers की बात करे तो सबसे पहले Gmail का नाम आता है क्योंकि पूरी दुनिया मे इसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा होता है और यह गुगल का मुफ्त प्रोडक्ट है जिसे गुगल ने खुद बनाया हो और लोग आँख बंद करके ईस पर विश्वास करता है
1. Gmail
2. Yahoo Mail
3. Outlook Mail
4. Zoho Mail

इन सभी वेबसाइट की मदद से आप मुफ्त मे ईमेल खाता बनाकर इसका इस्तेमाल कर सकते हो, इन्मे से किसी भी वेबसाइट से ईमेल बनाने पर आपको कोई चार्ज नही देना पड़ता है और यह अनलिमिटेड ईमेल बनाने का सुविधा भी देता है आप जितना चाहे उतना ईमेल मुफ्त मे बना सकते हो, और इसका उपयोग अनलिमिटेड दिनो तक कर सकते हो

ईमेल Address /ईमेल id कैसे बनाते है How to create Email Id in Hindi ?

इन्टरनेट पर बहुत सारी वेबसाइट उपलब्ध है जो आपको  मुफ्त में ईमेल खाता बनाने की सुविधा देता है हमने आपको ऊपर ही 4 वेबसाइट  का नाम बता दिया है। एक बार फिर से बता देता हूँ जैसे Gmail, Yahoo और  Outlook आप इसमे से किसी भी वेबसाइट से जाकर मुफ्त में ईमेल खाता बनाकर ईमेल Address / ईमेल id प्राप्त कर सकते हो, अगर आप सोच रहे हो इनमें से कौन सा वेबसाइट अच्छा है तो मै आपको बता देना चाहुंगा आप Gmail में बनाओ आप जिस भी वेबसाइट से ईमेल खाता बनाओगे, @ ke बाद आपका ईमेल id में उस वेबसाइट का नाम भी दिया होगा जैसे example@gmail.com यहाँ Example के स्थान पर आपका नाम रहेगा आप जो कुछ भी रखना चाहते हो फिर @ के बाद उस कंपनी का नाम जहाँ से आप ईमेल खाता बनाओगे, ईमेल खाता बनाने के लिए आप accounts.google.com पर विजिट करे फिर Create New Account पर क्लिक करे उसके बाद आपके सामने फार्म खुलेगा उसे अच्छे से भरदे, और फिर Submit करदो अब आपका खाता बनकर तैयार हो जाएगा,

ईमेल के फायदे | Benefits of Email in Hindi

1. ईमेल का सबसे अच्छा फायदा है कम्युनिकेशन
एक दूसरे से संपर्क करने के लिए या संपर्क में रहने का सबसे अच्छा है ईमेल
इंटरनेट के माध्यम से अपने दोस्तों और परिवार का कही दूर से हालचल  पूछ सकते हो जो की मिनटो में हो जायेगा, वही अगर आज से बिते दस साल पहले की बात करें तो लोग चिट्टी का का उपयोग करता था
2. किसी भी बड़ा फाइल को आप ईमेल से भेज सकते हो
3. किसी भी व्यक्ति से आप सम्पर्क करने के लिए मोबाइल नंबर के बजाय ईमेल का उपयोग कर सकते हो
4. ईमेल के माध्यिम से आप किसी भी प्रकार का डाक्यूमेंट को भेज सकते जैसे doc, html, css, Jpg, mp3, md4 इत्यादि
5. जब ईमेल का उपयोग करके किसी को भी कुछ भेजते है तो ईमेल मे भेजा गया डाक्यूमेंट या टेक्स्ट तुरंत ही पहुँच जाता है प्राप्तकर्ता तक,

ईमेल का इतिहास | History Of Email in Hindi

ऊपर बताया गया जानकारी को आपने हासिल कर ही लिया तो अब आपको ईमेल का इतिहास भी जान लेना चाहिए, ईमेल बनाने का कार्य सन् 1960 ई॰ से चल रहा था इन्टरनेट पर मौजूद जानकारी के हिसाब से बताया जा रहा है कि कई सालो तक ईमेल बनाने का कार्य चलता रहा और लंबे अवधि के बाद सन् 1970 ई॰ मे कार्य सफलतापूर्वक संपन्न हुआ यानी की लगभग  10 वर्ष का समय लगा ईमेल बनाने का कार्य सफलतापूर्वक संपन्न होने मे, लेकिन यह अभी तक पूरी तरह से बनकर तैयार नही हुआ था, आपने पूरी लेख पढ़ लिया तो अब आपके दिमाग मे एक सवाल उठ रहा होगा, ईमेल का अविष्कार किसने क्या था, जाहिर सी बात है सवाल उठना भी चाहिए तब ही तो आपके दिमाग मे सोचने समझने का विचार आएगा, सबसे पहले ईमेल का अविष्कार Shiva Ayyadurai था जो कि एक भारतीय नागरिक है, लेकिन कुछ लोग ईमेल का आविष्कारक Ray Tomlinson को कहते है अब आपको कन्फ्यूजन आ रहा होगा असल मे ईमेल का अविष्कार किसने किया था हमने आपको पहले ही बता दिया है ईमेल का अविष्कार  Shiva Ayyadurai  ने किया था, और जैसा की हम सबको मालूम है ईमेल मे यूजरनाम के बाद @ चिन्ह उसके बाद उस कंपनी का नाम जिसके द्वारा मेल भेजा गया है होता है तो इसी @ चिन्ह का अविष्कार Ray Tomlinson ने किया था जिससे Username और Machine नाम को सुनिश्चित किया जा सके, और उपयोगकर्ता को उपयोग करने मे आसानी हो,

Conclusion

मुझे उम्मीद करता हूँ की आपको हमारा यह लेख ईमेल क्या है पसंद आया होगा. हम हमेशा से यही कोशिश रहते है की लेख पढ़ने वाले को ईमेल से संबंधित पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे वेबसाइट पर ईमेल से संबंधित सन्धर्व लेख खोजने की जरुरत ही नहीं पडे़. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी जानकारी भी प्राप्त हो जाए. यदि आपके मन में इस लेख को लेकर कोई भी सवाल हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ और सुधार होना चाहिए तब आप इसके लिए नीच कॉमेंट मे लिख सकते हैं. यदि आपको यह लेख ईमेल का फूल फॉर्म हिंदी में पसंद आया या कुछ नया सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को सभी सोशल मीडिया पर शेयर करे  नीचे सोशल मीडिया शेयर बटन है
Previous
Next Post »

2 comments

Click here for comments